ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
सीएए किसी भारतीय नागरिक के लिए नहीं है- सीएम योगी।
January 20, 2020 • विनय कुमार मिश्र


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीएए के समर्थन में आयोजित रैली में लोगों से आह्वान किया कि वे प्रधानमंत्री मोदी को पोस्टकार्ड भेजकर उन्हें बताएं कि वे धारा 370, तीन तलाक और सीएए के लिए उनका अभिनंदन करते हैं।सीएम ने ये बातें रविवार को सीएए के समर्थन में महाराणा प्रताप इंटर कालेज के मैदान पर आयोजित रैली में कहीं। उन्होंने कहा कि यह नागरिकता देने का कानून है। जब भारत दुनिया की ताकत बनकर उभर रहा है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दुनिया मे ताकत का एहसास करा रहा है। तब कुछ लोगों को यह अच्छा नहीं लगता वे जाने अनजाने गुमराह कर विषवमन कर रहे हैं। यह कानून किसी भी भारतीय नागरिक के लिए नहीं है। किसी की नागरिकता लेने का कानून नहीं है। उन घुसपैठियों के लिए जरूरी है जो आतंकवाद पैदा करते हैं। वामपंथ में एक सिद्धांत है कि एक झूठ को 100 बार बोलो तो वह सत्य हो जाएगा। वे उसी सिद्धांत पर चल रहे हैं।वामपंथ के इस सिद्धांत को कांग्रेस सहित अन्य दलों ने अंगीकार कर लिया है। 26 मई 2014 को प्रधानमंत्री मोदी के शपथ लेने की तारीख देश के लिए युग परिवर्तन की तारीख थी।  देश में आधारभूत संरचना का निर्माण तेजी से शुरू हुआ। सभी को मकान, किसान सम्मान निधि, शौचालय, गैस मिला। प्रधानमंत्री पुरजोर तरीके से कहते हैं कि 2024 तक हर घर नल के जरिये शुद्ध पेयजल पहुंचाएंगे। ऐसा पहली बार हुआ। प्रधानमंत्री मोदी ने पहले ही कहा था कि उनका पहला कार्यकाल विकास के लिए था दूसरा कार्यकाल जन एवं राष्ट्रीय आकांक्षा पूरा करने को मिला है।इसी राष्ट्रीय अकांक्षा के तहत उन्होंने धारा 370 को सदैव के लिए समाप्त किया। इसकी मांग वर्षों से उठती थी। श्याम प्रसाद मुखर्जी कश्मीर को बेड़ियों से मुक्त करने के लिए स्वयं को बलिदान कर दिए। किसी सरकार ने यह हिम्मत नहीं की। हम अभिनंदन करते हैं पीएम का कि इसे समाप्त कर पाकिस्तान को संदेश दे दिया।