ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
पहले लोगों का सरकारी सेवाओं पर इतना भरोसा नहीं था - अरविंद केजरीवाल
November 14, 2019 • सजग ब्यूरो

- ग्रेटर कैलाश में पॉश कॉलोनी में भी मोहल्ला क्लीनिक हिट: सीएम अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को ग्रेटर कैलाश  में एक पॉश अपर मिडिल क्लास कॉलोनी में दिल्ली सरकार द्वारा खोले गए पहले मोहल्ला क्लीनिक का निरीक्षण किया। उन्होंने अपने निरीक्षण के दौरान कई रोगियों और क्लिनिक के कर्मचारियों के साथ मुलाकात की और मोहल्ला क्लिनिक में दी जा रही सुविधाओं के बारे में लोगों से जानकारी ली। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ ग्रेटर कैलाश के विधायक सौरभ भारद्वाज भी मौजूद थे। मोहल्ला क्लीनिक में उच्च मध्य वर्ग के लोग बड़ी संख्या में  इलाज कराते दिखें। 

ग्रेटर कैलाश के गुरु हरकिशन पब्लिक स्कूल के बगल में स्थित हेमकुंट कॉलोनी में स्थित मोहल्ला क्लिनिक के निरीक्षण के दौरान कई रोगियों से मुलाकात की। उन्होंने उनसे पूछा कि क्या वे क्लिनिक में सुविधाओं और सेवाओं की गुणवत्ता से संतुष्ट हैं। प्रतीक्षा लाईन के सभी रोगी पड़ोस के ही रहने वाले थे। सीएम अरविंद केजरीवाल के प्रति उनकी प्रतिक्रिया काफी सकारात्मक थी। सीएम ने कहा, "मुझे खुशी है कि आप सभी को सरकारी अस्पतालों पर भरोसा है। पहले लोग मानते थे कि सरकारी अस्पताल बहुत अच्छे नहीं होंगे। लेकिन अब सभी मोहल्ला क्लीनिक बहुत अच्छी स्थिति में हैं। "

चिराग एन्क्लेव निवासी श्रीमती कमल अपने पोते को अपने साथ ले आई थीं, जो फ्लू से पीड़ित था। उन्होंने कहा, “मैं मोहल्ला क्लिनिक में पहली बार आई हूं। मैं यह देखकर बहुत खुश हूँ कि यह इतनी अच्छी स्थिति में है। मैं अपने पोते को लाया हूं क्योंकि वह बीमार हो गया है। ”

रक्त परीक्षण के लिए आने वाली श्रीमती बत्रा ने कहा, “मैं यह देखकर खुश हूं कि यह सुविधा इतनी अच्छी और साफ है। मोहल्ला क्लीनिक नया है इसलिए यह बहुत अच्छा लग रहा है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने उन्हें आश्वासन दिया कि सरकार पिछले कुछ वर्षों से क्लीनिकों को बेहतर बनाए हुए है और वे व्यक्तिगत रूप से रखरखाव और संचालन की निगरानी कर रहे हैं।

सीएम  केजरीवाल ने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से मुलाकात की और उनके अनुभवों के बारे में जानकारी ली। डॉ रेजिना ने सीएम  केजरीवाल के रक्तचाप को चेक किया और बताया कि वह पूरी तरह से सामान्य है। सीएम ने डाक्टर को धन्यवाद दिया और समाज के प्रति उनकी सेवा के लिए बधाई दी।

सीएम  केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि जो लोग महंगे निजी अस्पतालों का खर्च उठा सकते हैं, वे सरकारी सेवाओं को इस्तेमाल करना शुरू कर दिए हैं। यह गुणवत्ता का सबसे बड़ा प्रमाण पत्र है। पॉश जीके कॉलोनी में मुझे एक मोहल्ला क्लिनिक का उपयोग करते हुए उच्च-मध्यम वर्ग के लोग मिले, वह बहुत संतुष्ट हैं। क्या आप कुछ साल पहले इसकी कल्पना कर सकते थे?'

उन्होंने कहा, “पहले कभी उच्च मध्यम वर्ग के लोगों ने मोहल्ला क्लीनिक जैसी सरकारी सेवा में विश्वास नहीं जताया। मुझे बहुत खुशी है कि दिल्ली की सरकारी स्वास्थ्य प्रणाली अब निजी स्वास्थ्य प्रणालियों के बराबर है, ठीक उसी तरह जैसे हमारे सरकारी स्कूल दूसरे स्कूलों से बेहतर बन रहे हैं।”

ग्रेटर कैलाश 1 ई  ब्लॉक के निवासियों राजीव काकरिया, ग्रेटर कैलाश एक एन्क्लेव के विंग कमांडर शर्मा और पम्पोश एन्क्लेव से श्री संदीप की मौजूदगी में सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैंने डेढ़ साल पहले ग्रेटर कैलाश का दौरा किया था। मुझे आश्चर्य हुआ जब आपने मुझसे अपने क्षेत्र में एक मोहल्ला क्लिनिक खोलने का अनुरोध किया था। मैं देख सकता हूं कि उच्च मध्यम वर्ग के परिवारों के लोग भी क्लिनिक का दौरा कर रहे हैं। ये वह लोग हैं जो फोर्टिस और मैक्स जैसे निजी अस्पतालों में जाते हैं, लेकिन यहां तक कि वे अपने इलाज के लिए सरकारी डिस्पेंसरी जैसे मोहल्ला क्लीनिक में आ रहे हैं। 

निजी स्वास्थ्य सुविधा जैसी दिल्ली में सरकारी स्वास्थ्य सुविधा : सीएम अरविंद केजरीवा

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के बड़े - बड़े अस्पताल में जाने वाले अब मोहल्ला क्लीनिक में आ रहे हैं। जब उच्च मध्य वर्ग मोहल्ला क्लीनिक में आकर इलाज करा रहे हैं तो इससे बड़ा लोगों का सरकारी स्वास्थ्य सिस्टम पर कभी भरोसा नहीं रहा है। यह मेरे लिए व अन्य लोगों के लिए खुशी की बात है। लोग डाक्टर की तारीफ कर रहे हैं। दवाईयां मुफ्त मिल रही है। डाक्टर बता रहे हैं कि लोग बड़े- बड़े अस्पताल के प्रिस्क्रिप्शन लेकर आ रहे हैं। पहले बड़े - बड़े अस्पताल में लोग इलाज कराते थें, अब मोहल्ला क्लीनिक में आ रहा है। अब पूरी दिल्ली का सरकारी स्वास्थ्य सिस्टम भी प्राइवेट की तरह हो गया है। जिस तरह लोग कहते हैं, हमने सरकारी स्कूलों का कायापलट कर दिए हैं। सरकारी स्कूल निजी स्कूल की तरह हो गए। इसी तरह हमने सरकारी स्वास्थ्य सिस्टम को भी निजी अस्पताल की तरह हो गया है।

"महिलाएं पहले बीमारी छुपाती थीं, अब मोहल्ला क्लीनिक में इलाज करा रही हैं"

मुख्यमंत्री ने मोहल्ला क्लीनिक में आए मरीजों से बातचीत की। लोगों ने बताया कि उन्हें मोहल्ला क्लीनिक पर भरोसा है। मोहल्ला क्लीनिक में आई एक महिला ने सीएम को बताया कि मेरी बहन डायलिसिस मरीज है। वह मोहल्ला क्लीनिक गई। वहां उसका इलाज ठीक चल रहा है। वह काफी स्वस्थ भी है। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने मोहल्ला क्लीनिक के लिए बहुत कुछ किया है। गरीब महिलाएं पहले पैसे की कमी की वजह से बीमारी छुपा लेती थीं, वह अब मोहल्ला क्लीनिक में आकर इलाज करा रही हैं।

निजी डेंटल क्लीनिक के डाक्टर ने मोहल्ला क्लीनिक से जुड़ने की इच्छा जताई

ग्रेटर कैलाश में निजी डेंटर क्लीनिक चलाने वाले डा. मल्होत्रा ने भी दौरे के वक्त मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। डा. मल्होत्रा ने जन सेवा के लिए मोहल्ला क्लीनिक से जुड़कर काम करने की इच्छा जताई।

मोहल्ला क्लीनिक दिल्ली के लोगों के लिए गुणवत्ता और सस्ती स्वास्थ्य सेवा सुनिश्चित करते हैं

दिल्ली सरकार ने आम आदमी मोहल्ला क्लिनिक परियोजना तहत 1,000 मोहल्ला क्लीनिकों का एक लक्ष्य रखा था। वर्तमान में राष्ट्रीय राजधानी में 302 मोहल्ला क्लीनिक स्थापित हैं, जो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (PHCs) के रूप में लगभग 109 आवश्यक दवाओं और 212 नि: शुल्क परीक्षणों के साथ लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं को देने का काम कर रहे हैं।