ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार भी लोगों से दूरी बनाकर रहें !
April 7, 2020 • विनय कुमार मिश्र

वैभव लक्ष्मी ज्योतिष समाधान केन्द्र के अनिल कुमार त्रिपाठी ने बताया कि वर्तमान समय में जहां लोग महारोग को लेकर भयभीत और सशंकित हैं तो वहीं दूसरे लोगों के अंदर एक जिज्ञासा भी है कि आखिरकार इस महारोग का समाधान क्या है? कब समाप्त होगा? यह किस समय अधिक हो सकता है और इसका अंत कब होगा ?
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रहोंमे में सात्विक ग्रह बृहस्पति सूर्य और चंद्रमा ये ग्रह जब बलवान होते हैं तब वायुमंडल भी स्वच्छ और सात्विक होता है लेकिन जब यही ग्रह कमजोर अवस्था में होते हैं तो वह वायुमंडल के साथ साथ मानव जीवन पर भी इसका विपरीत प्रभाव पड़ता है! गत छब्बीस छब्बीस दिसंबर 2019 को वर्ष का अंतिम सूर्य ग्रहण दिखाई दिया था जो कि ग्रहण के दिन षडाष्टक योग का निर्माण हुआ था फलस्वरूप परिणाम हम सबके सामने है! 31 मार्च 2020  से 13 अप्रैल 2020 तक सूर्य रेवती नक्षत्र पर रहेंगे  ! सामान्यत इस कालांश में सूर्य कमजोर रहते हैं ! जिसके फलस्वरूप यह महायोग अपना बड़ा रूप ले सकता है! 13 अप्रैल 2020 रात्रि 10:38 बजे पर सूर्य अपनी उच्च राशि मेष के अश्वनी नक्षत्र पर होंगे जिसके परिणामस्वरूप चिकित्सा क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि अथवा  मार्गदर्शन मिलने की संभावना है किन्तु दिव्यमास और मेषारम्भ वर्ष के सम्मलित फल को देखते हुए 13 अप्रैल 2020  से आरंभ होने वाले मेषारम्भ में और भी अशुभ होने की संभावना है ! ज्योतिष के अनुसार मई 2020  के अंतिम सप्ताह से इस महारोग से निजात मिलनी शुरू होगी ! जिन लोगों की कुंडली में शनि चंद्रमा राहु और सूर्य कमजोर हो तो उन लोगों को विशेष सावधानी से रहते हुए आदित्य हृदय स्स्रोत पाठ करना चाहिए! उन्होंने उपाय के विषय में बताया कि लोगों से दूरी बना कर रहे हैं, घर में सात्विक आहार स्वच्छ राशन और कपूर लोहबान मदार की लकड़ी गाय के गोबर से बने उपलों पर हवन करें!