ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
एनटीपीसी ने सरकार के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए, वित्तीय वर्ष 2021 में परिचालन से 98,000 करोड़ रुपए के राजस्व का लक्ष्य
September 30, 2020 • सजग ब्यूरो • व्यापार

वित्तीय वर्ष में विद्युत उत्पादक कंपनी ने 21,000 करोड़ रुपए की पूंजी, 15 मिलियन मीट्रिक टन कोयला आउटपुट का लक्ष्य रखा

देश की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादक कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड ने वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। एनटीपीसी ने वित्तीय वर्ष 2021 में परिचालन से 98,000 करोड़ रुपए का राजस्व जुटाने का लक्ष्य रखा है और साथ ही 340 बिलियन यूनिट्स विद्युत उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया है।

समझौता ज्ञापन पर श्री संजीव नंदन सहाय, सचिव (विद्युत), भारत सरकार और एनटीपीसी के सीएमडी श्री गुरदीप सिंह ने हस्ताक्षर किए। इस दौरान विद्युत मंत्रालय और एनटीपीसी के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे।

एमओयू के अनुसार वर्तमान वित्त वर्ष में एनटीपीसी के लिए 21,000 करोड़ रुपए की पूंजी और 15 मिलियन मीट्रिक टन (एमएमटी) का कोयला उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

एनटीपीसी ने पिछले वर्षों में असाधारण प्रदर्शन किया है और भारत सरकार की ओर से हासिल रेटिंग इस प्रदर्शन की गवाही देती है। इसके अलावा, समूह के पास 20 गीगावॉट क्षमता निर्माणाधीन है, जिसमें 5 गीगावॉट नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाएं शामिल हैं।

62.9 गीगावॉट की कुल स्थापित क्षमता के साथ, एनटीपीसी समूह के 70 बिजली स्टेशन हैं, जिनमें 24 कोयला, 7 संयुक्त साइकल गैस/तरल ईंधन, 1 हाइड्रो, 13 नवीकरण और 25 सहायक और जेवी पावर स्टेशन शामिल हैं। समूह में 20 गीगावॉट से अधिक निर्माणाधीन क्षमता है, जिसमें से 5 गीगावाॅट नवीकरणीय ऊर्जा शामिल है।