ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
दिल्ली की स्थिति जल्द ही सामान्य होगी – अमित शाह
June 15, 2020 • सजग ब्यूरो • स्वास्थ्य

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि केंद्र सरकार दिल्ली में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाएगी । आज नई दिल्ली में राजधानी के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ बैठक में अमित शाह ने कहा कि हम सभी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में साथ मिलकर इस महामारी से लड़ना है।

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि दिल्ली में कोरोना से निपटने के लिए कल हुई बैठक में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए और सभी राजनीतिक दलों को मिलकर निचले स्तर तक इन फैसलों को बेहतर तरीके से पूरा करने में योगदान देना होगा।  शाह ने सभी राजनीतिक दलों से अपील करते हुए कहा कि उनके कार्यकर्ता यह सुनिश्चित करें कि केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली की जनता के लिए किये गए निर्णयों का नीचे तक कार्यान्वयन हो। अमित शाह ने कहा कि इस समय सभी राजनीतिक द्वेष को भुलाकार सभी पार्टियाँ दिल्ली की जनता के हितों के लिए साथ मिलकर काम करें। उन्होने कहा कि सभी दलों की एकजुटता से जनता में विश्वास बढेगा व इस लड़ाई को अधिक बल भी मिलेगा और दिल्ली की स्थिति जल्द ही सामान्य होगी। गृह मंत्री ने यह भी कहा कि हमको नए उपायों से दिल्ली में कोरोना की टेस्टिंग को बढ़ाना है। श्री शाह ने ज़ोर देकर कहा कि एकजुट होकर हम कोरोना महामारी से लड़ेंगे भी और जीतेंगे भी ।

बैठक में आम आदमी पार्टी के संजय सिंह, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी के साथ ही बहुजन समाज पार्टी के प्रतिनिधि भी शामिल हुए। इन नेताओं ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कुछ सुझाव दिये और केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और तीनों नगर निगमों को पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया। 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में दिल्ली की जनता की सुरक्षा व कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कई महत्तवपूर्ण निर्णय लिए थे। इनमें दिल्ली में कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए दिल्ली को तुरंत 8000 बेड वाले 500 रेलवे कोच देने, कन्टेनमेंट जोन में मरीज के संपर्क में आए लोगों की पहचान (कांटेक्ट मैपिंग) के लिए घर-घर जाकर हर एक व्यक्ति का व्यापक स्वास्थ्य सर्वे तथा दो दिन में कोरोना की टेस्टिंग को बढाकर दो गुना किया जायेगा और 6 दिन बाद तीन गुना करना शामिल है। साथ ही दिल्ली के निजी अस्पताओं में कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए निर्धारित कोरोना बेड में से 60 प्रतिशत बेड कम रेट में उपलब्ध कराने, कोरोना उपचार और कोरोना की टेस्टिंग के रेट तय करने के लिए नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी के पॉल की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाने और दिल्ली के छोटे अस्पतालों तक कोरोना के लिए सही जानकारी तथा दिशा-निर्देश देने के लिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में फोन पर मार्गदर्शन (Telephonic guidance) प्रदान करने  का भी फैसला किया गया था।