ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन
देश की आंतरिक सुरक्षा में नागरिक सुरक्षा कोर की महत्वपूर्ण भूमिका
November 27, 2019 • विनय कुमार मिश्र

गंगोत्री देवी महिला महाविद्यालय में नागरिक सुरक्षा कोर के प्रशिक्षण शिविर का उद्घाटन महाविद्यालय के सभागार में प्रारंभ हुआ। शिविर के पहले दिन कोर के सहायक उपनियंत्रक वेद प्रकाश यादव ने छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि नागरिक सुरक्षा यानि एक आम आदमी को सुरक्षा व्यवस्था संभालने का जिम्मा देना है। इसका गठन बाह्य युद्ध के समय देश की आंतरिक व्यवस्था में कोई व्यवधान उत्‍पन्न न हो व नागरिकों का मनोबल बना रहे इस उद्देश्य से किया गया । कोतवाली प्रखंड के डिविजनल वार्डेन  जितेंद्र देव उपाध्याय ने कहा भारत सरकार द्वारा वर्ष 1962 में चीन आक्रमण के पश्चात नागरिक सुरक्षा उपायों के क्रियान्वयन के लिए नागरिक सुरक्षा संगठन की स्थापना देश तथा प्रदेश के सामरिक महत्व के नगरों में की गयी।दुर्घटना नियंत्रक अधिकारी डॉ मनोज कुमार मिश्र ने कहा कि चूंकि हवाई आक्रमण से प्रभावित जन-धन की सुरक्षा उक्त उद्देश्यों के मूल में निहित है, अत: शासकीय पदाधिकारियों के साथ-साथ विभाग में नागरिकों की सहभागिता को अत्यंत महत्‍व देते हुए इसे संगठन का स्वरूप प्रदान किया गया। आईसीओ कुमार आदर्श ने बताया जन-धन की हानि को कम करना।उत्पादन बनाये रखना तथा जनता के मनोबल को बनाये रखना कोर का मुख्य उद्देश्य है।कार्यक्रम में कॉलेज की प्राचार्या डॉ पूनम शुक्ला ने कोर के सदस्यों के साथ एनसीसी व एन एस एस की छात्राओं को विशेष धन्यवाद दिया।कार्यक्रम में कॉलेज के व्यवस्थापक आशुतोष मिश्र ,नर्सिंग स्कूल की प्राचार्या लोरिटा याकूब, उपप्रचार्या डॉ प्रियंका त्रिपाठी समेत अनेक लोग मौजूद थे।