ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
भारतीय रेलवे ने रेलटेल को अपनी स्वास्थ्य सुविधाओं में एचएमआईएस कार्यान्वयन का कार्य सौंपा
November 11, 2020 • सजग ब्यूरो • व्यापार

भारतीय रेलवे ने अस्पताल प्रबंधन को एक एकल आर्किटेक्चर पर लाने के उद्देश्य से और संचालन को सहज बनाने के लिए अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली के कार्यन्वयन का कार्य रेलटेल कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड ("रेलटेल") को सौंपा है, यह प्रणाली अस्पताल प्रशासन और रोगी स्वास्थ्य सेवा में सुधार के लिए भारत भर में सभी 125 स्वास्थ्य सुविधाओं और 650 पॉलीक्लिनिक्स के लिए एक एकीकृत क्लिनिकी ​​सूचना प्रणाली उपलब्ध कराएगी।

विभागों और प्रयोगशालाओं के अनुसार क्लिनिकल डेटा को कस्टमाइज़ करने, मल्टी हॉस्पिटल कंसल्टेशन, मेडिकल और अन्य उपस्करों के साथ निर्बाध इंटरफेस आदि सॉफ्टवेयर की विशेषताएं हैं और मरीज़ों को अपने मोबाइल डिवाइस पर पूर्ण गोपनीयता के साथ, अपने सभी मेडिकल रिकॉर्ड एक्सेस करने का लाभ होगा।

रेलटेल और रेल मंत्रालय ने कार्य के निष्पादन के तौर तरीकों के संबंध में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।  खुले स्रोत पर आधारित अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HMIS) सॉफ्टवेयर को क्लाउड पर डिप्लॉय किया जाना है।

इस घोषणा पर बोलते हुए, भारतीय रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष  विनोद कुमार यादव ने कहा “हम सभी क्षेत्रों में डिजिटलीकरण कर रहे हैं और लगातार बदलाव के दौर से गुजर रहे हैं। अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HMIS) प्लेटफॉर्म यूनिक मेडिकल आइडेंटिटी सिस्टम से जुड़ा होगा। कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर आधारित एक उत्कृष्टता केंद्र प्रक्रियाधीन है जो इन तकनीकी परिवर्तनों को ड्राइव करेगा चाहे यह कृत्रिम बुद्धिमत्ता, डेटा विश्लेषण या ऐप आधारित सेवाएं हों।  रेलटेल के साथ हमारा रणनीतिक संबंध हमेशा योग्यता पर आधारित रहा है और रेलटेल हमें वीडियो निगरानी प्रणाली, ई-ऑफिस सेवाऐ, कांटेन्ट ऑन डिमांड, भारत के प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर वाई-फाई जैसी विभिन्न परियोजनाओं का कार्यान्वयन करने में  लगातार मदद कर रहा है ”

इस कार्य के आवंटन के अवसर पर बोलते हुए, रेलटेल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक,  पुनीत चावला ने कहा, “दक्षिण मध्य रेलवे में अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली का कार्यान्वयन प्रूफ ऑफ कंसेप्ट के रुप में पहले ही स्थापित किया जा चुका है और इसका चरणबद्ध तरीके से अखिल भारतीय स्तर पर डिप्लॉयमेंट किया जा रहा है।  रिकॉर्ड रखने के पारंपरिक रूपों की अपनी सीमाएँ हैं और प्रौद्योगिकी का एकीकरण, स्केल, लागत क्षमताओं,उपयोग में आसानी व अन्य लाभों को प्राप्त करने का एकमात्र तरीका है।”

रेलटेल, आईसीटीएस सेवाओं और साल्युशन्स जैसे एमपीएलएस- वीपीएन, लीज्ड लाइन सर्विसेज, HD वीडियो सम्मेलन, ई-ऑफिस और डेटा सेंटर सर्विसेज, बड़े नेटवर्क का हार्डवेयर सिस्टम इंटीग्रेशन, सॉफ्टवेयर और डिजिटल सेवाओं का विविध पोर्टफोलियो उपलब्ध कराता है।