ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने एमसीएलआर 45 बीपीएस से कम किया
January 6, 2020 • सजग ब्यूरो • व्यापार

देश के सार्वजनिक क्षेत्र के प्रमुख बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र (बीओएम) ने अपने बेंचमार्क लेंडिंग रेट्स यानी उधारी दरों पर आधारित निधियों की सीमांत लागत (MCLR) को विभिन्न अवधियों के लिए कम कर दिया है। दिनांक 7 जनवरी, 2020 से एमसीएलआर अवधियों में वर्तमान स्तरों से एमसीएलआर को 45 बीपीएस तक कम किया गया है।
बैंक की ओवरनाईट, एक माह और तीन माह की एमसीएलआर को इन अवधियों में घटाकर 7.60% (8.05% से), 7.70% (8.15% से) और 7.75% (8.20% से) किया गया है। छह माह के लिए एमसीएसआर दरों को संशोधित कर 7.90% (8.30% से घटकर) और एक वर्ष एमसीएलआर को 8.25% (8.40% से घटकर) किया गया है।
बैंक की एमसीएलआर दरों में इस कमी का लक्ष्य आर्थिक वृद्धि और औद्योगिक विकास में सहयोग करना तथा दरों के ट्रान्समिशन को सुनिश्चित करना है।
बैंक ने अपनी आधार दर को वर्तमान स्तर से 10 बीपीएस से संशोधित कर 9.40% किया।