ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
आरईसी लिमिटेड ने 5000 मजदूरों और जरूरतमंदों को आवश्यक सामग्रियों वाले पैकेट वितरित किए
June 9, 2020 • सजग ब्यूरो • व्यापार

बिजली मंत्रालय के अंतर्गत केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम आरईसी लिमिटेड ने कार्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व का निर्वहनकरते हुए अपनी सीएसआर इकाई आरईसी फाउंडेशनके माध्यम से कोविड महामारी के कारण हुए लॉकडाउन से प्रभावित श्रमिकों और जरूरतमंदों को आवश्यक सामग्रियों वाले 5000 पैकेट वितरित किए हैं। कपड़े से बनी इन थैलियों में पानी की बोतल, भुना चना, मूंगफली, नमकीन, ग्लूकोज पाउडर, फुटवियर और दोबारा उपयोग में लाए जाने वाले मास्क हैं।

आरईसी एक गैर बैकिंग वित्तीय कंपनी है जो अपने सामूहिक प्रयासों के माध्यम से श्रमिकों और जरूरतमंदों को भोजन और आवश्यक सामग्रियां उपलब्ध कराने के अभियान की अगुवाई कर रही है। पैकेट वितरण का पहला चरण 4 जून 2020को योजनाबद्ध तरीके से शुरु किया गया था। इस दौरान दिल्ली में 500 श्रमिकों और जरुरतमंदो को ऐसे पैकेट बांटे गए थे। दूसरा चरण 7 जून को गुड़गांव और नोएडा में सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। इस दौरान लगभग 1000 पैकेट वितरित किए गए। शेष पैकेट आने वाले दिनों में वितरित किये जाएंगे। पैकेटों का वितरण निगम के कर्मचारियों द्वारा किया गया था, जिन्होंने स्वेच्छा से इस अभियान में भाग लिया था।

इसके अतिरिक्त, विभिन्न जिला प्राधिकरणों, गैर सरकारी संगठनों और बिजली वितरण कंपनियों के सहयोग से आरईसी पहले से ही पूरे देश में जरूरतमंदों को पका हुआ भोजन और राशन उपलब्ध करा रही है। यह पहल तब शुरू की गई थी जब देश में कोरोनावायरस के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन हुआ था। आरईसी 6 जून 2020 तक, 4.66 लाख किलोग्राम से अधिक खाद्यान्न, 2.56 लाख भोजन के पैकेट, 9600 लीटर सैनिटाइज़र, 3400 पीपीई किट और 83000 मास्क वितरित कर चुकी है।

आरईसी लिमिटेड ने नई दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में चिकित्सा कर्मचारियों के लिए विशेष रूप से निर्मित पौष्टिक भोजन के पैकेट वितरित करने के लिए ताज सैट्स  (आईएचसीएल और सैट्स लिमिटेड का एक संयुक्त उपक्रम) के साथ भागीदारी की है। हर दिन, 300 भोजन के पैकेट नई दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाओं की अग्रिम पंक्ति में खड़े चिकित्साकर्मियों का आभार जताने के लिए उनके बीच वितरित किए जा रहे हैं। इस पहल के तहत दिल्ली में अबतक 18,000 से अधिक भोजन के पैकेट वितरित किए जा चुके हैं।