ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
आँड ईवन में किसी को न हो परेशानी - CM अरविंद केजरीवाल
November 1, 2019 • सजग ब्यूरो

पड़ोसी राज्यों में जल रहे पराली से बढ़ रहे प्रदूषण को देखते हुए 4 से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन स्कीम लागू किया जा रहा
आँड ईवन का पालन न करने पर 4 हजार रुपये का जुर्माना लगेगा, मेट्रो के फेरे बढ़ेंगे व 2 हजार निजी बसों को लगाया जाएगा

दिल्ली में पड़ोसी राज्यों में जलाए जा रहे पराली से बढ़ रहे प्रदूषण को देखते हुए 4 से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन स्कीम लागू किया जा रहा है। इसके मद्देनजर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों के बैठक की। सीएम को आँड इवन लागू करने के लिए की गई तैयारी से अवगत कराया गया। सीएम ने सभी विभागों को निर्देश दिया है कि आँड ईवन के दौरान किसी को किसी तरह की परेशानी न हो। साथ ही उन्होंने निर्देश दिया कि आँड ईवन के दौरान मेट्रो व बसों के फेरे बढ़ा दिए जाएं। लोगों को बसों के लिए इंतजार न करना पड़ा। साथ ही उन्होंने जुर्माना लगाने की बजाए व्यवस्था बनाने पर ध्यान देने की बात कही है।

2 हजार अतिरिक्त बसें चलेंगी
दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी की सड़कों पर 2,000 निजी बसों को चलाने का फैसला किया है। पिछली बार आँड ईवन के दौरान केवल 500 बसे लगी थीं। डीटीसी बसों के पूरे बेड़े के साथ सभी क्लस्टर बसों को भी लगाया जाएगा। बैठक में यह भी तय हुआ कि ऑड-ईवन का उल्लंघन करने वाले वाहनों पर चालान लगाने का अधिकार इस बार चार विभागों के पास होगा। राजस्व विभाग, यातायात पुलिस, परिवहन विभाग और सहायक यातायात निरीक्षक दल के एसडीएम और तहसीलदार इस बार उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगा सकेंगे। इस बार आँड ईवन के उल्लंघन पर 4000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। पहले यह दो हजार रुपये था।

ओला और उबर को किराया नहीं बढ़ाने को कहा गया है
ऑड-ईवन योजना के कार्यान्वयन के दौरान लोगों के लिए सुरक्षित और सुविधाजनक यात्रा सुनिश्चित करने के लिए दिल्ली परिवहन विभाग ने इस साल कई कदम उठाए हैं। उन्होंने ओवर चार्जिंग से बचने के लिए ओला और उबर जैसी कंपनियों को किराया नहीं बढ़ाने को कहा गया है।  ई-रिक्शा को भी किराया में  बढ़ोतरी नहीं करने की सलाह दी गई है। ट्रैफिक पुलिस और दिल्ली परिवहन निगम को बेहतर संचालन की जिम्मेदार होगी। यह दिल्ली में प्रमुख चौराहों पर सीडीवी द्वारा प्लेकार्ड भी प्रदर्शित करेंगे।

मेट्रो का फेरा बढ़ेगा
डीएमआरसी 29 अतिरिक्त ट्रेनों के माध्यम से 61 अतिरिक्त यात्राएं और कुल 5100 यात्राएं आयोजित करेगा।  विभिन्न मेट्रो स्टेशनों पर ऑड-ईवन योजना पर इलेक्ट्रॉनिक संदेश प्रसारित होगा।  सभी मेट्रो लाइनों और ट्रेनों के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए, सभी प्रमुख मेट्रो स्टेशनों पर 35 टीमों को तैनात किया जाएगा। ऑड-ईवन लागू होने के दौरान लोगों की बढ़ती संख्या के कारण टिकट प्रणाली के प्रबंधन के लिए अतिरिक्त लोग भी तैनात होंगे।