ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
सातवां अंतर्राष्ट्री हिंदी अधिवेशन 11-12 नवम्बर 2019 को
September 28, 2019 • सजग ब्यूरो

भाषा सहोदरी हिंदी (न्यास) के प्रतिनिधि मंडल ने आज  एक मुलाकात भारत के महामहिम उप-राष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू जी के साथ कि, मंथन संवाद में भारतीय भाषाओं के साथ-साथ हिंदी का केंद्रीय करण भारत मे कैसे हो इस पर चर्चा हुई, जिसमे न्यायपालिका की भाषा आम जनता की भाषा मे हो, ज्ञान विज्ञान की भाषा बने हिंदी, भारतीय भाषाओं को सम्मान मिले, अंग्रेजी की अनिवार्यता समाप्त हो जिस से हिंदी के लोगो को परीक्षाओं और साक्षात्कार में रुकावट पैदा न हो , समान शिक्षा देश मे लागू हो जिस से देश का कोई भी छात्र शिक्षा के क्षेत्र से वंचित न हो , यह सपना माननीय दीन दयाल उपाध्याय जी का था, महामहिम ने सभी बातों को गंभीरता से सुना और अपनी सहमति जाहिर की, प्रतिनिधि मंडल के नेतृत्व पद्मश्री डॉ सी पी ठाकुर साँसद एवम पूर्व केन्द्रीय  मंत्री भारत सरकार ने की  साथ मे भाषा सहोदरी हिंदी न्यास के मुख्य संयोजक श्री जय कान्त मिश्रा और महासचिव श्री दीपक ठाकुर ने की, भाषा सहोदरी हिंदी न्यास प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी अपना सातवां अंतर्राष्ट्रीय  हिंदी अधिवेशन 11-12 नवम्बर 2019 को हंसराज कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय में करने जा रही है जिसमे देश भर से जिला स्तर के शिक्षक, शोधार्थी, प्रोफेसर, लेखक, साहित्यकार, शिक्षाविद, नयायधिश, कुलपति, पत्रकार भाग लेंगे यह दो दिवसीय हिंदी अधिवेशन में भारत की नई शिक्षानीति, हिंदी को रोजगार से जोड़ने की चुनौतियां, न्याय पालिका, कार्यकलिका, विधायिका में भारतीय भाषाओं के ऊपर चर्चा होगी,  भाषा सहोदरी हिंदी न्यास के 11-12 नवम्बर को होने वाले अन्तराष्ट्रीय हिंदी अधिवेशन के उद्घाटन के लिए महामाहिम उप-राष्ट्रपति जी को मुख्य अतिथि के लिए आमंत्रित भी किया गया है ।