ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
राजनैतिक निरपराधिकरण के लिए शीघ्र कानून लाने के लिए भारतीय मतदाता संगठन की प्रधानमंत्री जी से अपील
September 29, 2018 • Shiv Sachdeva

सुप्रीम कोर्ट के हाल ही में दिए गए राजनैतिक निरपराधिकरण के फैसलों का भारतीय मतदाता संगठन ने स्वागत करते हुए प्रधानमंत्री जी से सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार अपराधी वृति के लोगों को राजनीति से बाहर रखने के लिए आवश्यक कानून शीघ्र लाने की अपील की है। वास्तव में अगर कानून लाने में समय लगे तो प्रधानमंत्री जी से निवेदन किया गया है कि वे भारत सरकार से तुरन्त इस विषय पर एक सक्षम ऑर्डिनेंस जारी करवाये। राजनैतिक शुचिता से ही देश में सुशासन सम्भव है। भारतीय मतदाता संगठन तो पूरे देश को अपराधमुक्त देखना चाहता है। इसके लिए सभी राजनैतिक पार्टियां, प्रशासन, पुलिस और सेना इस दिशा में योजनाबद्ध कार्य करें, ऐसा निवेदन है।


भारतीय मतदाता संगठन एक गैर राजनैतिक समाजसेवी संस्थान है और मतदाता जागरण, प्रबुद्ध नागरिकों का जागरण तथा अपराधमुक्ति और सुशासन के लिए स्वयंसेवकों के माध्यम से प्रयास करता है।

चुनाव आयोग से भी भारतीय मतदाता संगठन ने अपील की है कि चुनाव में प्रभावी रुप से धनबल, बाहुबल को निष्प्रभावी करे। हारने वाले और जीतने वाले प्रतिनिधि जो चुनाव में सीमा से अधिक बढ़-चढ़ कर खर्च करते हैं, उन्हें 20 साल के लिए चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित करें और प्रत्येक इस तरह से जीतने वाले की भी सीट इन्दिरा गांधी जी की सीट की तरह खाली करवायें। तभी धनबल का प्रभाव कम होगा। चुनाव सस्ता होगा और तभी अच्छे लोगों के लिए, ईमानदार, निःस्वार्थी और सेवाभावी लोगों के लिए स्थान बनेगा। अच्छे लोगों को सक्रिय रखना लोकतन्त्र की एक प्राणदायिनी जरुरत है।