ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र ने ‘स्‍वच्‍छ भारत’ को बढ़ावा देने के लिए ‘स्‍वच्‍छता पखवाड़ा’ गतिविधि का आयोजन किया
February 1, 2019 • Shiv Sachdeva

~दैनिक जीवन शैली में स्‍वच्‍छताअपनानेके लिए 70वें गणतंत्र दिवस पर देशभर में जागरूकता पहल~

~16 से 31 जनवरी, 2019 तक ‘स्‍वच्‍छता पखवाड़ा’ मनाया गया~

बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर देश की सभी मुख्‍य शाखाओं और प्रशासनिक कार्यालयों में स्‍वच्‍छता अभियान का आयोजन किया। बैंक के नेतृत्‍व दल श्री आलेख राउत, कार्यपालक निदेशक और श्री हेमन्त कुमार टम्टा, कार्यपालक निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र द्वारा ‘स्‍वच्‍छता पखवाड़ा’ की पहल की गई।

बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र के कार्यपालक निदेशक, श्री आलेख राउत ने कहा कि “महाराष्‍ट्र में सबसे बड़े नेटवर्क के साथ, हमें विश्‍वास है कि स्‍वच्‍छता और सतत स्‍वस्‍थ वातावरण को बढ़ावा देने की जिम्‍मेदारी हमारी है। अत: यह आवश्‍यक है कि हमारे द्वारा जो पहल की जाती है उसका लोगों पर लंबे समय तक प्रभाव रहे”।


लोगों को स्‍वच्‍छता के प्रति जागरूक बनाने के लिए बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र द्वारा देश की अपनी शाखाओं में विभिन्‍न गतिविधियों का आयोजन किया गया। बैंक ने स्‍वच्‍छता रैली, कार्यालय तथा कार्यालय परिसर, स्वच्छता गृह, कुदेडानकी स्वच्छता, बगीचे की सफाई आदी का आयोजन स्‍वच्‍छता के महत्‍व को बढ़ावा देने के लिए बैंक के पुरे देशभर के शाखाओं द्वारा 30 अंचल कार्यालके माध्यम किया जा रहे हैं।

बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र के कार्यपालक निदेशक श्री हेमन्त कुमार टम्टा ने बताया कि, “हम स्‍पष्‍ट करना चाहते हैं कि स्‍वच्‍छता मन की एक स्थिति है, न कि शरीर का मात्र एक कार्यकलाप। दृश्‍य रूप में दिया गया संदेश लोगों पर गहन और लंबे समय तक प्रभाव डालता है। हमें विश्‍वास है कि हमारे दैनिक जीवन में स्‍वच्‍छता अभ्‍यास को अपनाने से व्‍यवसाय के लिए और वृहत् रूप में लोगों के लिए स्‍वस्‍थ वातावरण निर्माण में मदद मिलेगी। हमने निर्णय लिया है कि ‘स्‍वच्‍छता पखवाड़ा’ और सामान्‍य स्‍वच्‍छता को बढ़ावा देने के लिए अपनी क्षमता के सभी संसाधनों को सम्मिलित करेंगे।,”


स्‍वच्‍छ भारत अभियान की पहल के रूप में बैंक द्वारा 16 से 31 जनवरी, 2019 तक ‘स्‍वच्‍छता पखवाड़ा’ का आयोजन भारत सरकारके वित्तीय सेवाए विभाग के परिपत्रक अनुसार किया जा रहा है।