ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
बैंक ऑफ महाराष्ट्र द्वारा अपने रिटेल और एमएसएमई ऋणों को रेपो दर से लिंक किया
September 30, 2019 • सजग ब्यूरो

बैंक ऑफ महाराष्ट्र, देश के एक प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ने बाहरी बेंचमार्क के रूप में अपने रिटेल और एमएसएमई ऋणों को भारतीय रिज़र्व बैंक के रेपो दर से लिंक करने की घोषणा की है, जो 1 अक्तूबर, 2019 से प्रभावी होगा।
भारतीय रिज़र्व बैंक ने सभी बैंकों के लिए बाहरी बेंचमार्क यथा- रेपो के साथ अपने ऋणों को लिंक करना अनिवार्य किया है ताकि उसके द्वारा प्रभावित दरों में कटौती का लाभ शीघ्रता से उपभोक्ताओं तक पहुंचाया जा सके।
बाहरी बेंचमार्क आधारित उधारी पर भारतीय रिज़र्व बैंक के दिनांक 4 सितंबर, 2019 के दिशानिर्देशों के अनुपालन में बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने सभी नए फ्लोटिंग दर ऋणों, रिटेल खंड और सूक्ष्म और लघु उद्यम (एमएसई) को आरबीआई पॉलिसी रेपो दर से लिंक करने का निर्णय लिया है जो 1 अक्तूबर, 2019 से प्रभावी होगा। इसके अतिरिक्त, बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने रेपो दर से लिंक करने के लिए 'मध्यम उद्यमों' को भी सम्मिलित किया है और अब एमएसएमई ऋणों के सभी खंड लाभान्वित होंगे।
बैंक द्वारा रेपो दर को रिटेल और एमएसएमई ऋणों से लिंक कर ब्याज दर का लाभ सीधे अपने ग्राहकों को पहुँचाया जा रहा है।