टीएचडीसीआईएल ने 1500 करोड़ रूपये का कॉरपोरेट बांड जारी कर 3215 करोड़ रूपये जुटाए
September 6, 2019 • सजग ब्यूरो

टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआईएल) ने 1500 करोड़ रूपये का कॉरपोरेट बांड सिरीज-ए जारी किया है इसके बेस इशू की साईज (Base Issue Size) रूपये 500 करोड़ व ग्रीन शू आप्सन (Green Shoe option) रूपये 1000 करोड़ का है। इसकी बोली 05 सितम्बर, 2019 को टीएचडीसीआईएल के लोधी रोड, दिल्ली स्थित कार्यालय में कॉरपोरेशन  के निदेशक (वित्त) श्री जे. बेहरा व कम्पनी सचिव श्रीमती राम शर्मा की उपस्थिति में लगाई गई। इसका कूपन रेट (Coupon Rate) रूपये 1500 करोड़ का 8.25 प्रतिशत रहा तथा क्रेडिट रेटिंग (Credit Rating) AA+ and AA Stable रही। इसकी बोली अत्यधिक सफल रही तथा Bond Base Size Issue से 06 गुणा अधिक सब्सकाईव हुआ। विभिन्न इन्वेस्टर्स व एरेन्जर्स (Investors and Arrangers) से कंपनी ने 3215 करोड़ रूपये की बोली प्राप्त की।

कॉरपोरेट बांड्स की अवधि 10 वर्षों के लिए होगी। बांड्स होने वाले लाभ को अंशतः निर्माणाधीन परियोजनाओं की ऋण आवशयकताओं (Debt Requirements), पूर्व में किये गये खर्चों के पुनरावृत्ति (Recoupement of Expenditures) तथा वर्तमान ऋणों के Refinance के लिए किया जायेगा। यह बांड निदेशक (वित्त) व कम्पनी सचिव के नेतृत्व में जारी किया गया। कॉरपोरेशन के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निर्देशक श्री डी.वी. सिंह ने उत्साह के साथ संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि टीएचडीसी द्वारा बांड को अनेक इन्वेस्टर्स क्लास से अत्यधिक रेस्पांस मिला तथा एक घंटे तीस मिनट के टाइम स्लाट में 6 गुणा ओवर सब्सकाईव हुआ। उन्होंने कहा कि यह दर्शाता है कि कंपनी की परफार्मेंस व प्रगति की संभावनाओं में इन्वेटस्टर्स का अत्यधिक विश्वास  है_

टिहरी व कोटेश्वर जल विद्युत परियोजनाओं तथा गुजरात के पाटन व द्वारका में पवन ऊर्जा परियोजनाओं की कमीशनिंग के उपरांत टीएचडीसी की कुल संस्थापित क्षमता 1513 मेगावाट हो गयी है कॉरपोरेशन 1320 मेगा वाट क्षमता की खुर्जा सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन कर रही है जिसकी शिलन्यास 9 मार्च, 2019 को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र दमोदर दास मोदी द्वारा किया गया। टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड देश का प्रमुख विद्युत उत्पादक संस्थान होने के साथ ही एक मिनी-रत्न (कटेग्री-प्रथम) व शेड्यूल 'ए' दर्जा प्राप्त संस्थान है ।