ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
जब तक दिल्ली में केजरीवाल सरकार है, तब तक दिल्ली वालों को मिलेगी 24 घंटे देश में सबसे सस्ती बिजली : मनीष सिसोदिया
August 1, 2019 • Shiv Sachdeva

  • हर राज्य में बिजली के दाम लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन दिल्ली में लगातार बिजली के दाम कम होते गये हैं: मनीष सिसोदिया
  • मनीष सिसोदिया ने दी बीजेपी नेताओं को गुरुग्राम, नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद के साथ दिल्ली के बिजली के दामों की तुलना करने की चुनौती

“मैं दिल्ली के लोगों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं जिन्होंने ऐसी सरकार चुनी जिसने पिछले पांच साल से दिल्ली में बिजली के दाम नहीं बढ़ने दिये। दिल्ली में बिजली महंगी नहीं होने दी। आज दिल्ली अकेला ऐसा राज्य है जहां पिछले पांच साल से बिजली के दाम घटे हैं। हर राज्य में बिजली के दाम लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन दिल्ली में लगातार बिजली के दाम कम होते गये हैं।“

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली सचिवालय में हुई एक प्रेस कांफ्रेंस में ये बात कही।

मनीष सिसोदिया ने कहा, “दिल्ली में 2010 में 200 यूनिट बिजली के दाम  539 रुपये थे। साल 2013 में यह 928 रुपये हुए। साल 2018 में ये घटकर 660 रुपये हुआ। और अब आज के बाद ये 408 रुपये हो जाएंगे। आज दिल्ली में 200 यूनिट बिजली के दाम 2010 के मुकाबले भी कम हो गये हैं।“

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री ने कहा, “मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी ने चार महीने पहले घोषणा की थी कि फिक्स चार्जेस कम कर दिये जाएंगे और आज फिक्स चार्जेस कम कर दिये गये हैं। इसके अलावा छोटी दुकान वालों के बिजली के रेट कम कर दिये गये हैं। इससे डॉक्टरों, वकीलों, चार्टर्ड एकाउंटेंट्स, किराना की दुकान वालों को बहुत फायदा होगा। इतना ही नहीं, दिल्ली में 24 घंटे बिजली आ रही है। दिल्ली में लोग इन्वर्टर, जनरेटर भूल गये हैं।“

मनीष सिसोदिया ने कहा, “अगर दिल्ली में ऐतिहासिक रूप से हर साल लगातार कम हो सकते हैं, तो बाकी राज्यों में दाम कैसे बढ़ सकते हैं। दिल्ली में अगर 24 घंटे बिजली मिल सकती है, तो बाकी राज्यों में भारी कटौती क्यों है। आज हम मांग करते हैं कि बाकी राज्यों की सरकारें भी बिजली के दामों में कटौती करें।“

बाकी राज्यों के बिजली के दामों से दिल्ली के बिजली के दामों की तुलना करते हुए उप-मुख्यमंत्री ने कहा, “भाजपा शासित गुरुग्राम में 200 यूनिट बिजली  910 रुपये की है। भाजपा शासित नोएडा में 200 यूनिट बिजली के दाम 1310 रुपये है। भाजपा शासित मुंबई में 200 यूनिट बिजली के दाम 1410 रुपये हैं। वहीं, कांग्रेस शासित अजमेर में 200 यूनिट बिजली के दाम 1588 रुपये हैं। जबकि दिल्ली में 200 यूनिट बिजली के दाम केवल 408 रुपये है।“

मनीष सिसोदिया ने सवाल किया, “बाकी राज्यों में इतनी सस्ती बिजली क्यों उपलब्ध नहीं है। मुझे लगता है कि बाकी राज्यों ने बड़े-बड़े घोटाले कर रखे हैं। इसलिए बाकी राज्य सस्ती बिजली नहीं दे रहे हैं। जनता से लूट बंद करनी चाहिए। इन सभी राज्यों को बिजली के दाम कम करने चाहिए और घोटाले की सीबीआई जांच होनी चाहिए। मैं एक बार फिर कहना चाहता हूं कि दिल्ली के लोगों ने साढ़े चार साल पहले जो ईमानदार सरकार चुनी थी जो दिल्ली के लोगों की जिंदगी बदलने पर काम कर रही है। जब तक दिल्ली में केजरीवाल सरकार है, तब तक दिल्ली वालों को 24 घंटे, देश में सबसे सस्ती बिजली मिलती रहेगी।“