ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
गुणवत्तापूर्ण ग्राहक सेवा एवं व्यापारिक वृद्धि के बारे मे जागरूक करने के लिए सिंडिकेट बैंक ने की सभा
January 18, 2019 • Shiv Sachdeva

सिंडिकेटबैंक द्वारा टाउनहॉल मीटिंग का आयोजन मावलंकार हॉल मे किया गया | इसमे बैंक के प्रबंध निदेशक एवं कार्यपालक अधिकारी ने दिल्ली एवं फरीदाबाद क्षेत्र के लगभग 1000 स्टाफ सदस्यों को संबोधित किया | इस प्रकार की बैठक पूरे देश मे स्टाफ सदस्यों को बैंकिंग में हो रहे नवीनतम विकास से संबंधित परिवर्तन से जागरूक करने उनको कॉर्पोरेट लक्ष्य एवं गुणवत्तापूर्ण ग्राहक सेवा एवं व्यापारिक वृद्धि के बारे मे जागरूक करने के लिए आयोजित की जा रही है | यह आयोजन इसी टाउन हॉल बैठक का एक क्रम था |
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री  मृत्युंजय महापात्र, प्रबन्ध निर्देशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी, दिल्ली अंचल के आंचलिक प्रमुख सुधाकर अय्यर एवं अन्य कार्यपालकों द्वारा दीपप्रज्ज्वल्लित क र कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। 
श्री सुधाकर अय्यर ने अपने स्वागत भाषण मे प्रबंध निदेशक के कार्यग्रहण के बाद सिंडिकेट बैंक को एक मजबूत बैंक बनाने के लिए जो नई कार्यनीति शुरू की गई है उसके बारे में बताया | उन्होने स्टाफ सदस्यों को बेहतर ग्राहक सेवा देने के लिए प्रोत्साहित किया | उन्होने यह भी कहा कि सिंडिकेट बैंक भारतीय बैंकिंग प्रणाली में पूरे देश एवं विदेशों में 4100 शाखाओं के साथ 93 सालों से उत्तम ग्राहक सेवा प्रदान करने वाला बैंक है | बैंक के 35000 सक्ष्म कार्मिक ग्राहकों को उत्म सेवा प्रदान कर रहे है |
श्री महापात्रा ने यह बताया कि सिंडिकेट बैंक ने पीछले सप्ताह तीन कंपनियों मेसर्स अत्‍यति टैक्‍नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड, एवं फिनटेक कंपनी से गठजोड़ किया है जो कि गणसेवा के नाम से जाना जाता है |
साथ ही, बैंक के शुल्‍क आधारित आय बढ़ाने एवं बैंक के ग्राहकों को अधिक विकल्‍प उपलब्‍ध कराने के उद्देश्‍य से सिंडिकेट बैंक ने भारतीय जीवन बीमा निगम के अतिरिक्‍त एसबीआईलाइफ को साझेदार बनाने का निर्णय लिया है| भारतीय रिजर्व बैंक के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए सह-संगठन मॉडल के अंतर्गत प्राथमिकता प्राप्त क्षेत्र को ऋण प्रदान करने हेतु बैंक ने मैसर्स श्री एक्विपमेंट फाइनेन्स लिमिटेड से भी गठजोड़ किया है |
उन्होने बताया कि हमारा बैंक ग्राहक हितैषी होने के साथ-साथ अपने कर्मचारियों को कर्मचारी शेयर खरीद योजना के तहत कर्मचारियों को बैंक के स्टॉक भी मुहैया कराकर रु 500.00 करोड़ का इक्विटी शेयर एकत्र करेगा | बैंक पूंजी प्राप्ति हेतु स्टाफ सदस्य को 300 मिलियन शेयर जारी करेगा | उन्होने यह भी सूचित किया कि कॉर्पोरेट क्षेत्र की तुलना में रिटेल क्षेत्र विशेषकर गृह ऋण , एम एस एम ई क्षेत्र में बैंक का ऋण बढ़ेगा |