ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
कविता कोश के संस्थापक, ललित कुमार, दिव्यांगजन के रोल मॉडल के राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु चयनित
December 3, 2018 • Shiv Sachdeva

दिव्यांग व्यक्तियों के लिए 2018 के राष्ट्रीय पुरस्कारों की घोषणा की गई है और श्री ललित कुमार को रोल मॉडल श्रेणी में पुरस्कार के लिए चुना गया है। यहपुरस्कार 03 दिसम्बर 2018 को दिव्यांग व्यक्तियों के अंतर्राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर विज्ञान भवननई दिल्ली में भारत के माननीय राष्ट्रपति द्वारा दिया जाएगा। श्री ललित कुमार चार साल की उम्र में पोलियो से प्रभावित हुए। उन्होंने पोलियो और अपने परिवार की कमजोर सामाजिक और आर्थिक स्थिति से उत्पन्न बड़ी चुनौतियों के बावज़ूद अपनी शिक्षा जारी रखी। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्कॉलरशिप का प्राप्त की और विदेश जाकर अपनी पढ़ाई पूरी की।

भारतीय साहित्य को डिजिटलाइज करने की सबसे पहली पहल श्री ललित कुमार ने की। वह कविता कोश नामक साहित्य की दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन कोश में से एक के संस्थापक हैं। श्री कुमार इस कोश में पद्य की विभिन्न विधाओं को देश-विदेश में फैले स्वयंसेवकों की एक टीम की मदद से सहेज रहे हैं। कविता कोश में 40 से अधिक भारतीय और विदेशी भाषाओं के काव्य शामिल है। श्री कुमार लालित्य इंटरनेशनल फॉर आर्ट एंड कल्चर (LICAC) संस्था के वर्तमान अध्यक्ष हैंजो भारतीय कलासाहित्य और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

श्री कुमार ने दिव्यांगहित में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया है। वे WeCapable.com नामक वेबसाइट के संस्थापक हैं जो कि विकलांगता से सम्बन्धित महत्वपूर्णसूचनाओं का विश्वसनीय स्रोत है। जुलाई 2018 मेंश्री कुमार ने एक मुफ्त ऑनलाइन ब्रेल अनुवादक बनाया जो सभी प्रमुख भारतीय भाषाओं का अनुवाद ब्रेल कोड में करता है। इसके बाद उन्होंने मूक-बधिर के लिए शब्द से सांकेतिक भाषा परिवर्तक भी बनाया। इसके अलावाश्री कुमार दशमलव नामक एक यूट्यूब चैनल भीचलाते हैं जो भारत भर में दिव्यांग व्यक्तियों को जानकारीप्रशिक्षण और सलाह देता है। अपने इस चैनल के माध्यम से वे दिव्यांगजन के रोजगारव्यक्तिगत समस्याओंसरकार से मिलने वाली सुविधाओं के अलावा और भी अनेक विषयों पर जानकारी देते हैं और अपनी उत्साहवर्धक बातों से उनमें जीवन जीने का हौसला भरते हैं। इसके अलावा उनकी अन्य प्रमुख पहलों में TechWelkin.com और Gadyakosh.org शामिल हैं।

एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर और बायोइंफोर्मेटिशियनश्री कुमार ने संयुक्त राष्ट्र संघमेडिकल रिसर्च काउंसिल ऑफ यूके और नेशनल बुक ट्रस्टभारत जैसे प्रतिष्ठित संगठनों के साथ कार्य किया है।