ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
एसबीआई ग्रुप ने 'एसबीआई ग्रीन मैराथन के तीसरे संस्करण की घोषणा की
July 23, 2019 • Shiv Sachdeva
  • इस बार की पहली मैराथन 15 सितंबर से लखनऊ में शुरू होगी।
  • 6 महीनों में 15 शहरों में होगा एसबीआई समूह का यह वार्षिक इवेंट
  • कार्यक्रम की थीम रन फॉर ग्रीनर फ्यूचर रखी गई है
  • एसबीआई ग्रुप को एक लाख प्रतिभागियों के इस मेगा इवेंट से जुड़ने की उम्मीद
  • स्वच्छ और हरित शहर को बढ़ावा देने के लिए सभी प्रतिभागियों को दिये जाएंगे बायोडीग्रेडेबल टी-शर्ट
  • इवेंट में उपयोग ली जाने वाली तमाम सामग्री बायोडीग्रेडेबल और रीसाइक्सेबल होगी

एसबीआई ग्रीन मैराथन के पहले दो संस्करणों की बड़ी सफलता के बाद, देश के सबसे बड़े वित्तीय सेवा ग्रुप एसबीआई समूह ने इसके तीसरे संस्करण को लॉन्च किए जाने की घोषणा की है। हरित भविष्य के लिए जागरूकता फैलाते हुए इस वित्तीय वर्ष में, एसबीआई समूह देश के 15 शहरों में इस मेगा इवेंट की मेजबानी कर रहा है। जीरो अपशिष्ट वाले एसबीआई ग्रीन मैराथन के इस तीसरे संस्करण में लगभग 1 लाख प्रतिभागी होंगे जो एक स्वच्छ व पर्यावरण हितैषी समाज के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए एक साथ दौड़ेंगे।

एसबीआई ग्रीन मैराथन की इंश्योरेंस हेल्थ पार्टनर एसबीआई जनरल इंश्योरेंस होंगी जबकि एसबीआई लाइफ और एसबीआई म्यूचुअल फंड भी इसमें अहम योगदान दे रहे हैं। 15 शहरों में आयोजित होने जा रही इस मैराथन का पहला इवेंट 15 सितंबर, 2019 से लखनऊ में शुरू होगा, इसके बाद गुवाहाटी, मुंबई, बेंगलुरु, नई दिल्ली, चेन्नई, हैदराबाद, भुवनेश्वर, कोलकाता, तिरुवनंतपुरम, अहमदाबाद, भोपाल, पटना, जयपुर में मैराथन के बाद 1 मार्च 2020 को चंडीगढ़ में समापन होगा। एसबीआई ग्रीन मैराथन के लिए रन कैटेगरी 5, 10, 21 किलोमीटर की होगी।

एसबीआई के डीएमडी (एचआर) और सीडीओ श्री आलोक कुमार चौधरी ने कहा, 'पर्यावरण संरक्षण और सतत विकास के लिए एक गहरी प्रतिबद्धता के साथ, हम एसबीआई ग्रीन मैराथन के तीसरे संस्करण के साथ एक और पडाव तक पहुंचते हुए प्रसन्न है। इस आयोजन को 2 साल हो गए हैं और हम एसबीआई की ओर से उन सभी हितधारकों को धन्यवाद देना चाहते हैं, जिन्होंने पिछले दो संस्करणों को यादगार और सफल बनाया। हम, एक बार फिर एक स्वच्छ व स्वस्थ भविष्य के लिए कंधे से कंधा मिला कर दौडने का आहवान करते हैं।