ALL व्यापार राजनीति स्वास्थ्य साहित्य मनोरंजन कृषि दिल्ली शिक्षा राज्य धर्म - संस्कृति
एनएचपीसी में मध्यस्थता और संविदात्मक दायित्वों को संभालने पर सेमिनार का आयोजन
August 31, 2018 • Shiv Sachdeva

माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा सीपीएसई पर आयोजित कॉनक्‍लेव में सीपीएसई के बीच ज्ञान और सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करने की आवश्यकता पर बल देने के परिणामस्वरूप, एनएचपीसी लिमिटेड के एचआरडी सेंटर फॉर एक्सलन्स ने 29 अगस्त, 2018 को निगम मुख्‍यालय, फरीदाबाद में "मध्यस्थता और संविदा संबंधी दायित्वों को संभालने" पर एक दिवसीय सेमिनार आयोजित किया।  इस अवसर पर एनएचपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री बलराज जोशी मुख्य अतिथि थे। श्री रतीश कुमार, निदेशक (परियोजनाएं) और श्री एन.के. जैन, निदेशक (कार्मिक) भी इस अवसर पर उपस्थित थे। अपने संबोधन में, श्री बलराज जोशी, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक ने मध्यस्थता मामलों से संबंधित सर्वोत्तम प्रथाओं को समझने के महत्व पर बल दिया ताकि संगठन के लाभ के लिए एक प्रभावी मध्यस्थता तंत्र तैयार किया जा सके। श्री रतीश कुमार, निदेशक (परियोजनाओं) ने इसे अधिक प्रभावी बनाने के लिए मौजूदा मध्यस्थता प्रक्रिया की पुनर्रीक्षण की आवश्यकता का जिक्र किया। श्री एन.के. जैन, निदेशक (कार्मिक) ने मध्यस्थता मामलों पर सर्वोत्तम प्रथाओं को समझने और बेंचमार्किंग की आवश्यकता पर बल दिया। सेमिनार में एनएचपीसी के वरिष्ठ अधिकारियों की भागीदारी देखी गई और इसमें गेल, इंडियन ऑइल, एनएचएआई, भेल और एनटीपीसी जैसे प्रमुख प्रतिष्ठित सीपीएसई के प्रमुख वक्तागण भी शामिल थे।